Home News Today वायरस के उद्गम स्थल को जानने के लिए अमेरिका ने दिया 90...

वायरस के उद्गम स्थल को जानने के लिए अमेरिका ने दिया 90 दिन का अल्टिमेटम

हाल ही की खबरों के अनुसार अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने इंटेलिजेंस एजेंसियों को 90 दिनों के अंदर यह पता लगाने का आदेश दिया है कि कोरोना वायरस कहां से फैला.

इससे पहले मंगलवार को अमेरिकी स्वास्थ्य मंत्री ज़ेवियर बेसेरा ने वर्ल्ड हेल्थ असेंबली में चीन का नाम लिए बग़ैर विश्व स्वास्थ्य संगठन से कहा था कि कोरोना वायरस कहां से फैला, इसकी जाँच का अगला चरण ‘पारदर्शी’ होना चाहिए.

कोविड-19 का सबसे पहला केस दिसंबर 2019 में चीन के वुहान शहर में दर्ज किया गया था.चीनी हरकतों पर पहले से ही अमेरिकी नजर थी | चीनी प्रशासन ने शुरुआती मामलों का संबंध वुहान की एक सीफ़ूड मार्केट से पाया था. वैज्ञानिकों का मानना है कि यह वायरस जानवरों से इंसानों में पहुँचा है.

मगर हाल में अमेरिकी मीडिया में आई ख़बरों के मुताबिक़, कुछ ऐसे सबूत हैं जो इस ओर इशारा करते हैं कि यह वायरस चीन की एक प्रयोगशाला से लीक हुआ है.

‘वॉल स्ट्रीट जर्नल’ ने अमेरिकी इंटेलिजेंस रिपोर्ट के हवाले से दावा किया था कि इससे पहले ही नवंबर में वुहान लैब के तीन सदस्यों को कोविड जैसे लक्षणों वाली बीमारी के चलते अस्पताल जाना पड़ा था.

चीन ने हमेशा इन आरोपों को सिरे से नकारा है,मगर चीन ने न सिर्फ़ ऐसी ख़बरों को झूठा बताया था बल्कि आरोप लगाया था कि हो सकता है कोरोना वायरस अमेरिका की किसी लैब से निकला हो.

इस वायरस के कारण फैली महामारी के कारण दुनिया भर में अब तक कम से कम 35 लाख लोगों की जान जा चुकी है और संक्रमण के 16 करोड़ 80 लाख से ज़्यादा मामले दर्ज किए जा चुके हैं.

बाइडन ने 90 दिनों की मोहलत दी

बुधवार को व्हाइट हाउस की ओर से जारी वक्तव्य में राष्ट्रपति बाइडन ने कहा कि उन्होंने पद संभालने के बाद ही रिपोर्ट माँगी थी कि यह वायरस कहां से फैला.

इसमें यह भी पता लगाया जाना था कि यह किसी संक्रमित जानवर से इंसानों में फैला या किसी प्रयोगशाला से. उन्होंने कहा कि इस महीने यह रिपोर्ट मिली है मगर अभी और जानकारियां जुटाने के लिए कहा गया है.

बाइडन ने कहा, “अमेरिका की इंटेलिजेंस एजेंसियां दो संभावनाओं के क़रीब पहुँची हैं मगर किसी ठोस नतीजे पर नहीं पहुँच पाई हैं. अभी हालत ये है कि इंटेलिजेंस कम्यूनिटी के दो हिस्सों का मानना है कि यह जानवर से इंसानों में आया जबकि एक हिस्से का मानना है कि लैब से फैला. लेकिन कोई भी अपनी बात को पूरे यक़ीन से नहीं कह रहा. ज़्यादातर का मानना है कि किसी नतीजे पर पहुँचने के लिए पर्याप्त सूचनाएं नहीं हैं.”

अब राष्ट्रपति ने एंजेंसियों से कहा है कि अपनी कोशिशों को तेज़ करें और 90 दिनों के अंदर ऐसी जानकारी जुटाएं जिसके आधार पर किसी ठोस नतीजे के क़रीब पहुँचा जा सके.

आख़िर में उन्होंने कहा, “दुनिया भर में एक जैसी सोच रखने वाले सहयोगियों के साथ मिलकर चीन पर पूरी तरह पारदर्शी और साक्ष्य आधारित अंतरराष्ट्रीय जाँच में शामिल होने और सभी सबूतों को उपलब्ध करवाने के लिए दबाव डालते रहें.”

मगर बुधवार वॉशिंगटन पोस्ट अख़बार में छपे एक कॉलम में बाइडन प्रशासन पर आरोप लगा है कि वह वायरस के मूल का पता लगाने को लेकर कांग्रेस की जाँच में अड़चनें टाल रहा है और ज़िम्मेदारी विश्व स्वास्थ्य संगठन के सिर डाल रहा है.

बाइडन का यह बयान उस समय आया है जब सीएनएन की एक रिपोर्ट में कहा गया कि बाइडन प्रशासन ने संसाधनों की बचत के नाम पर विदेश मंत्रालय की उस जाँच को बंद कर दिया, जिसमें यह पता लगाया जा रहा था कि वायरस कहीं वुहान लैब से तो लीक नहीं हुआ.

सोर्स bbc इंडिया

RELATED ARTICLES

नीरज चोपड़ा जीवनी | Neeraj chopda hindi me

(नीरज चोपड़ा जीवनी, पदक, ओलंपिक में स्वर्ण, करियर) नीरज चोपड़ा जीवनी भाला फेंक एथलीट टोक्यो ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता,...

अपने पीएफ अकाउंट से 1 लाख रुपये तक निकाले |

अपने पीएफ अकाउंट से 1 लाख रुपये तक निकाले | नई दिल्ली. कर्मचारी भविष्‍य निधि संगठन (EPFO) ने...

Thande pani se nahane ke fayde | ठंडे पानी से स्नान करने के फायदे.

क्या आप जानते हैं हर दिन एक गर्म स्नान और ठंडे स्नान की सच्चाई ? thande pani se nahane ke fayde हम...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

नीरज चोपड़ा जीवनी | Neeraj chopda hindi me

(नीरज चोपड़ा जीवनी, पदक, ओलंपिक में स्वर्ण, करियर) नीरज चोपड़ा जीवनी भाला फेंक एथलीट टोक्यो ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता,...

अपने पीएफ अकाउंट से 1 लाख रुपये तक निकाले |

अपने पीएफ अकाउंट से 1 लाख रुपये तक निकाले | नई दिल्ली. कर्मचारी भविष्‍य निधि संगठन (EPFO) ने...

Thande pani se nahane ke fayde | ठंडे पानी से स्नान करने के फायदे.

क्या आप जानते हैं हर दिन एक गर्म स्नान और ठंडे स्नान की सच्चाई ? thande pani se nahane ke fayde हम...

4200 करोड़ से बनी वेबसाइट और income tax की रिटर्न नही हो रही है फाइल

पिछले महीने सात जून को लांच हुआ नया इनकम टैक्स ई-फ़ाईलिंग पोर्टल करदाताओं और टैक्स प्रैक्टिशनर्स के लिए भी सिरदर्द बन गया...

Recent Comments